Ind vs Eng 1st Test Match Highlights: हार के मुख्य कारण ये रहे

606

भारत एवं इंग्लैंड के मध्य चार टेस्ट मैंचों (India vs England Test Series ) की सीरीज चल रही है, जिसमें पहला टेस्ट मैच 5 फरवरी (Ind vs Eng 2021) से चेन्नई के एम ए चिदम्बरम स्टेडियम में खेला गया। इस टेस्ट मैच में भारत को बहुत ही शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा। सीरीज के पहले टेस्ट मैच में भारत को मेहमान इंग्लैंड टीम से 227 रनों के बड़े अंतर से हार झेलनी पड़ी। पहले टेस्ट के आखिरी दिन भारत को 420रनों का लक्ष्य हासिल करना था लेकिन कप्तान विराट कोहली की अगुवाई वाली पूरी भारतीय टीम अपनी दूसरी पारी में मात्र197 रनों पर ही सिमट गई और मेहमान टीम ने चार मैचों की टेस्ट सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है। आइये एक नजर डालते है पहले टेस्ट मैच में भारत की हार के मुख्य कारणों पर

भारत की हार का मुख्य कारण लचर बल्लेबाजी एवं गेंदबाजी-

भारत और इंग्लैंड के मध्य चार मैचों की टेस्ट सीरीज में इंग्लैंड ने पहला टेस्ट 227 रनों से जीत कर सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है। (ind vs eng 1st test) पहले बल्लेबाजी करते हुए पहली इनिंग में मेहमान इंग्लैंड की टीम ने 10 विकेट पर 578 रन बनाए जवाब में भारत ने अपनी पहली इंनिंग में 10 विकेट पर मात्र 337 रन ही बना सकी। इंग्लैंड के द्वारा पहली इंनिंग में 578 रनों का अगर विशाल स्कोर खड़ा किया गया तो इसका मुख्य कारण भारत की खराब गेंदबाजी है। इंग्लैंड के दो विकेट मात्र 63 रनों पर ही गिर गए थे। इसके बाद मेहमान टीम का तीसरा विकेट 263 रनों पर गिरा। इंग्लैंड की तरफ से सर्वाधिक रन रूट द्वारा बनाए गए अपना 100वां मैच खेल रहे जो रूट ने 19 चौके और 2 छक्कों की मदद से 218 रनों की एक यादगार पारी खेली सभी भारतीय गेंदबाज जो रूट के सामने समर्पण करते नजर आए। भारतीय गेंदबाजों में बुमराह और अश्विन ने 3-3 और इशांत एवं नदीम ने दो-दो विकेट लिए।

भारत द्वारा पहली इनिंग में लगभग 96 ओवर खेले गए। भारत की तरफ से सर्वाधिक रन पंत के द्वारा बनाए गए रिषभ पंत ने 91 रनों के बेहतरीन पारी खेली जिसमें 9 चौके और 5 छक्के लगाए। इसके अलावा पुजारा ने 73 और वाशिंगटन सुंदर ने 85 रनों की नाबाद पारी खेली। भारत की तरफ से पहली इनिंग में मुख्य बल्लेबाजों में रोहित शर्मा, कप्तान विराट कोहली, शुभमन गिल, रहाणे ने बल्लेबाजी में कोई खास कारनामा नही किया जिसके कारण भारत का स्कोर मात्र 337 रन ही हो सका । भारत के तीन बल्लेबाजों के अलावा सभी मुख्य बल्लेबाज पिच पर संघर्ष करते नजर आए। दूसरी इंनिंग की बात की जाए तो भारतीय गेंदबाजों ने मेहमान टीम पर अपना शिकंजा कसा और मात्र 178 रन ही बनाने दिए। भारतीय गेंदबाजो में रवीचंद्रन अश्विन ने सेकेंड इनिंग में बेहतरीन गेंदबाजी की और 6 बल्लेबाजों को पवेलियन की रास्ता दिखाई। इस तरह इंग्लैंड की टीम ने जीत के लिए भारत के सामने 420 रनों का लक्ष्य रखा।

इसके बाद दूसरी इनिंग में  बल्लेबाजी करने आई पूरी भारतीय टीम लक्ष्य का पीछा करते हुए 10 विकेट पर मात्र 192 रन ही बना सकी और 227 रनों के अंतर से हार का सामना करना पड़ा। भारत की तरफ से कोई भी बल्लेबाज क्रीज में नही डट सका और इंग्लैंड के गेंदबाजों को अपना विकेट उपहार के तौर पर देते चले गए। दूसरी इनिंग में भारतीय ओपनर रोहित शर्मा मात्र 12 रन बनाकर आउट हो गये। शुभमन गिल ने 50 रनों की पारी खेली वही पहली इनिंग में अच्छा खेलने वाले पुजारा भी मात्र 15 रन ही बना सके और स्टोक्स को अपना कैच दे बैठे। फिर क्रीज पर आए भारतीय कप्तान ने पारी संभाली और 72 रनों की पारी खेली। अंजिक्य रहाने दूसरी पारी में भी कोई खास कारनामा नही कर पाए और जीरों के स्कोर पर ही चलते बने। भारत की तरफ से पहली इनिंग में सर्वाधिक रन बनाने वाले रिषभ पंत भी कोई खास नही रहे और मात्र 11 रन बना कर जेम्स एंडर्सन का शिकार बने। इस तरह पूरी भरतीय टीम 192 रनों पर ढे़र हो गई और मैच को ड्रा भी नही करा पाई।

कुलदीप यादव को टीम में जगह न देना-

भारत टीम चयन द्वारा स्पिनर कुलदीप यादव को टेस्ट में न खिलाना भारतीय टीम के हार का मुख्य कारण था। कुलदीप की जगह रिजर्व खिलाड़ी शाहबाज नदीम को टीम में जगह दी गई थी नदीम के द्वारा कोई खास छाप नही छोड़ी गई और मेहमान टीम के बल्लेबाजों पर दबाव बनाने में असफल रहे। जबकि टीम सिलेक्टर्स को यह मालूम था कि चेन्नई के एम ए चिदम्बरम स्टेडियम की पिच स्पिनर्स को सपोर्ट करती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here